Entertainment

राष्ट्रद्रोही तत्वों के पक्ष में क्यों हैं दीपिका जैसी अभिनेत्रियां भी ?

राजेश झा

देशभर में वैसे तो दीपिका के सपोर्टर्स की कमी है, लेकिन देश का एक कोना ऐसा भी है, जहां दीपिका के लिए लोगों के मन में अभी प्यार उमड़ रहा है। वो कोना है जे एन यू, अलीगढ विश्वविद्यालय और हैदराबाद स्थित केंद्रीय विश्वहविद्यालय। सुशांत केस में ड्रग्स ऐंगल में सामने आई दीपिका पादुकोण से नारकोटिक्स ब्यूरो के अधिकारियों ने लंबी पूछताछ की तो जे एन यु , अलीगढ विश्वविद्यालय आदि में उसके समर्थन की होड़ चली। जे एन यू के ग्रुप ने ट्वीटर पर दीपिका के लिए इस हैशटैग को ट्रेंड करवाया -‘ स्टैण्ड विथ दीपिका’।

लोगों ने यह कहा कि अगर ड्रग्स मामले में दीपिका को गिरफ्तार किया जाएगा तो आधे से ज्यादा कॉलेज खाली हो जाएंगे।अपनी फिल्म छपाक का प्रमोशन करने गई दीपिका ने जे एन यु के टुकड़े -टुकड़े गैंग का साथ दिया था इसलिए उस गैंग के लोगों ने उस दिन को याद कर कहा कि जब कोई नहीं था तब काफी साइलेंटली दीपिका ने आकर हम लोगों को सपोर्ट किया था।आंदोलन के दिनों में हमारे लिए दीपिका खड़ी हुई थी और आज उन्हें हम लोगो की जरूरत है हम लोग उनके साथ खड़े रहेंगे।

एक तरफ जे एन यू की पूरी टीम दीपिका के सपोर्ट पर उतर आई तो वहीं दूसरी ओर सुशांत के निकटवर्ती रहे निलोत्पाल मृणाल ने इन सभी को कहा कि आज जो ये ड्रग्स लेने वाले है वह दीपिका के लिए बहुत ही जल्दी उठ गए हैं, जो स्टैण्ड विथ दीपिका को ट्रेंड कर लिया है ये ट्रेंड काफी टॉप पर है और जे एन यू के लोग उन्हे काफी सपोर्ट कर रहे हैं।इतना ही नहीं इससे भी ज़्यादा चिंता की बात ये है कि हमारे देश में महिलाओं के साथ होने वाले यौन हिंसा के ९९ % मामलों की शिकायत दर्ज भी नहीं होती है और जो १ % मामले दर्ज होते हैं उनका आंकड़ा बहुत बड़ा है। ऐसे में क्या आपको वाकई लगता है कि रणवीर सिंह द्वारा न्यूड पोज़ करने की शिकायत दर्ज करवाना इतना ज़रूरी है? क्या हमारे पास रणवीर कपूर की न्यूड तस्वीरों से ज़्यादा ज़रूरी और संवेदनशील मामले नहीं हैं, जिन्हें कानूनी दखलंदाज़ी की ज़्यादा ज़रूरत है?

रणवीर सिंह से शादी होने के बाद दीपिका पादुकोण जब से पर्दे पर लौटीं हैं तब से उनकी बोल्डनेस देखकर हर कोई हैरान है।फिल्म ‘गहराईयां ‘ में दीपिका ने बोल्डनेस की सारी हदें पार कर दी थीं। इस फिल्म में दीपिका ने लिपलॉक और इंटिमेट सींस दिए थे लेकिन इतना सब कुछ करने के बाद भी फिल्म बुरी तरह से फ्लॉप हो गई।ये तो हुई दीपिका की बात, अब जिक्र करते हैं उनके पतिदेव एक्टर रणवीर सिंह की ,जो कि पहले से ही काफी अतरंगी मिजाज के हैं। शादी के बाद तो उन्होंने भी शर्म की सारी सीमाएं लांघ दी हैं।

निश्चय ही ये मानसिक रोगी नहीं हैं बल्कि भारतद्रोहियों की कठपुतली हैं। इस तरह के कामों में रणवीर और उसकी पत्नी दीपिका पादुकोण एक उदाहरण मात्र हैं क्योंकि इस ‘तथाकथित सेलेब्रिटीज प्रजाति’ में अनेक परिवार ऐसे ही हैं। फोटोशूट को लेकर रणवीर जमकर ट्रोल हुए। कई तरह के मीम्स भी वायरल हुए। हालांकि पत्नी दीपिका पादुकोण, राम गोपाल वर्मा, अर्जुन कपूर, आलिया भट्ट, मसाबा गुप्ता समेत कई सेलेब्स ने इस फोटोशूट पर रणवीर को सपोर्ट किया है।पुलिस ने जांच के लिए ४८ घंटे का समय मांगा था। इसके बाद रणवीर के खिलाफ केस दर्ज किया गया। वकील ने बताया कि IPC की धारा २९२ के तहत ५ साल और धारा २९३ के तहत ३ साल की सजा का प्रावधान है। वहीं, आईटी एक्ट ६७ ए के तहत ५ साल की सजा हो सकती है।

Related Articles

Back to top button