News

‘पुणे में भी पुण्येश्वर और नारायणेश्वर मंदिरों को तोड़कर बनाई गई थीं दरगाहें’

महाराष्ट्र नव निर्माण सेना ने दावा किया है कि पुणे शहर में मंदिर की जमीन पर दो दरगाहें बनी हैं। मनसे महासचिव अजय शिंदे ने बताया कि उन्होंने ‘पुण्येश्वर मुक्ति’ अभियान की शुरुआत की है।

ज्ञानवापी परिसर का मामला अभी कोर्ट में चल रहा है। इधर महाराष्ट्र में भी दो दरगाहों के मंदिर की जमीन पर बने होने का दावा किया गया है। महाराष्ट्र नव निर्माण सेना ने दावा किया है कि पुणे शहर में मंदिर की जमीन पर दो दरगाहें बनी हैं।

मनसे महासचिव अजय शिंदे ने बताया कि उन्होंने ‘पुण्येश्वर मुक्ति’ अभियान की शुरुआत की है। साथ ही उन्होंने लोगों से समर्थन करने की अपील की है। वाराणसी स्थित ज्ञानवापी परिसर सर्वे का जिक्र करते हुए शिंदे ने कहा कि ज्ञानवापी की तरह हम पुणे में पुण्येश्वर मंदिर के लिए भी लड़ रहे हैं। उन्होंने दावा किया है कि खिलजी वंश के कमांडर अलाउद्दीन खिलजी ने पुणे में पुण्येश्वर और नारायणेश्वर मंदिरों को ढहा दिया था। उसके बाद वहां पर दरगाह का निर्माण किया गया।

बता दें कि बीते दिनों मनसे के प्रवक्ता गजानन काले ने ट्वीट के जरिए औरंगजेब के मकबरे पर भी सवाल उठाया था। उन्होंने कहा था कि इसे तबाह कर देना चाहिए। इसके बाद औरंगाबाद में एक मस्जिद समिति ने मकबरे पर ताला लगाने की कोशिश की थी। हालांकि बाद में ASI ने स्मारक पर अतिरिक्त गार्ड्स की तैनाती कर सुरक्षा बढ़ा दी थी।

साभार : पाञ्चजन्य

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button